Skip to content

हिंदी में पढ़ें

 भारत में स्टॉक मार्केट सम्बंधित टॉप कोर्स

Written by - Karunesh Dev

September 23, 2022 1 minute

भारतीय शेयर बाज़ारों ने पिछले कुछ सालों में अलग – अलग उम्र के लाखों लोगों को अपनी तरफ आकर्षित किया है। ख़ासतौर पर जब युवा वर्ग या ‘मिलेनियल्स’ की बात आती है, तो शेयर बाज़ार अतिरिक्त आय कमाने का अच्छा ज़रिया बनकर उभरा है। हालांकि, शेयर बाज़ार जितना लाभ कमाने के बारे में है, उतना ही नुकसान के जोखिम के बारे में भी है। 

एक आम सवाल जो शेयर बाज़ारों में ज़्यादातर नए लोगों का होता है, कि कुछ ट्रेडर्स और निवेशक जोखिम के बावजूद शेयर बाज़ार में लगातार मुनाफा कैसे कमाते हैं। इसका जवाब है – अच्छी जानकारी रख कर और शेयर बाज़ारों के बारे में लगातार सीखते रहने से।

शेयर बाज़ारों के बारे में कैसे जानें?

भारत में सरकारी या सरकार द्वारा प्रमोटेड एजेंसियां अलग – अलग इंस्टिट्यूटस के माध्यम से कई तरह के ट्रेनिंग प्रोग्राम चलाते हैं। जो लोग शेयर बाज़ारों में नए हैं और ट्रेडिंग और निवेश के बारे में ज्ञान हासिल करना चाहते हैं, वे एक अच्छा शेयर ट्रेडिंग कोर्स यहां से कर सकते हैं।

भारत में शेयर बाज़ार सम्बंधित टॉप ट्रेनिंग कोर्सेस :  

जानते हैं ऐसे टॉप इंस्टिट्यूटस और स्टॉक मार्केट कोर्सेस की लिस्ट के बारे में, जो वे भारत में प्रदान करते हैं :

1. एनएसई अकेडमी  

यह अकेडमी ऐसे शुरुआती निवेशकों को वित्तीय ज्ञान और शिक्षा देने के लिए स्थापित की गई थी, जो शेयर बाज़ार की अपनी यात्रा शुरू ही कर रहे हैं। 

ये स्टूडेंट्स की फाइनेंशियल नॉलेज बढ़ाने के लिए अलग – अलग कोर्सेस की चॉइस देने के साथ ऐसे स्टूडेंट्स के लिए सर्टिफिकेशन भी देती है जो इसी फील्ड में अपना प्रोफेशनल करियर बनाना चाहते हैं। 

एनएसई अकेडमी के कुछ सर्टिफिकेशन प्रोग्राम हैं:

  • एनएसई अकेडमी सर्टिफिकेशन इन फाईनेंशियल मार्केट्स  – एनसीएफएम
  • एनसीएफएम फाउंडेशन, इंटरमीडिएट एंड एडवांस्ड कोर्सेस 
  • सर्टिफाइड मार्किट प्रोफेशनल  – एनसीएमपी
  • प्रोफिशिएंसी सर्टिफिकेट 

इन सब में एनसीएफएम सबसे अधिक डिमांड वाले कोर्सेस में से एक है। इसमें फाईनेंशियल मार्केट्स में काम करने के लिए ज़रूरी स्किल्स दिए जाते हैं और ऑनलाइन टेस्टिंग द्वारा प्रैक्टिकल नॉलेज भी जांची जाती है।

एनएसई अकेडमी के कोर्स शेयर बाज़ार में ज्ञान बढ़ाने के अलावा उन लोगों के लिए भी फायदेमंद है जो एक अच्छा वित्तीय प्रोफाइल बनाना चाहते हैं। 

2. बीएसई अकेडमी

बीएसई अकेडमी भी शेयर बाज़ार के निवेशकों के लिए कई कोर्स चलाती है जो बाज़ारों का अपना ज्ञान बढ़ाना चाहते हैं। अकेडमी के कुछ ख़ास सर्टिफिकेशन प्रोग्राम हैं :

  • रिस्क मैनेजमेंट 
  • टेक्निकल एनालिसिस 
  • स्टॉक मार्किट 
  • बांड मार्किट 
  • इन्वेस्टमेंट बैंकिंग 
  • इक्विटी रिसर्च

इन ट्रेनिंग प्रोग्राम्स के एग्जाम और सर्टिफिकेशन ‘बीएसई अकेडमी सर्टिफिकेशन ऑन फाईनेंशियल मैनेजमेंट’ या ‘बीसीएफएम’ द्वारा नियंत्रित किये जाते हैं। बीएसई अकेडमी प्रोग्राम्स के प्रमुख पहलू :

  • प्रोफेशनल स्तर का ज्ञान मिलता है
  • सभी प्रोग्राम्स के साथ डिटेल्ड कोर्स मटिरिअल दिया जाता है
  • एक्साम्स और सर्टिफिकेशन 
  • शेयर बाज़ार के बहुत से टॉपिक्स को शामिल किया जाता है 

3. फ़िसडम की ‘वन परसेंट अकेडमी’ 

यह उन लोगों के लिए सही जगह है जो शेयर बाज़ारों में ट्रेडिंग और निवेश के लिए अपने टेक्निकल एनालिसिस स्किल को बढ़ाना चाहते हैं। इस प्लेटफॉर्म पर करवाया जाने वाला ‘फाउंडेशन प्रोग्राम’ अच्छे क्वालिफाइड इंडस्ट्री में काम कर रहे प्रोफेशनल्स से आता है जो इस 4 हफ्ते के प्रोग्राम में लाइव क्लासेज देते हैं। रिस्क मैनेजमेंट से लेकर बाज़ार के ट्रेंड्स की पहचान करने तक, यह प्रोग्राम एक नए निवेशक के लिए फायदेमंद हो सकता है क्योंकि इसे एक प्रैक्टिकल एप्रोच को ध्यान में रखकर तैयार किया गया है।

‘वन परसेंट अकेडमी’ के ‘फाउंडेशन प्रोग्राम’ की प्रमुख विशेषताएं यहां दी गई हैं :

  • यह 4 हफ्ते का प्रोग्राम है जिसमें एक्सपर्ट्स द्वारा ली जाने वाली 6 घंटे की मास्टर क्लासेज और मेंटर्स के साथ डाउट – सॉल्विंग सेशन शामिल हैं
  • यह प्रोग्राम अपने सभी स्टूडेंट्स को एक्सपर्ट्स और कोर्स के साथियों से सीखने के लिए 6 महीने की ‘कम्युनिटी एक्सेस’ की भी सुविधा देता है
  • बाज़ार के ट्रेंड और एंट्री-एग्जिट लेवल्स की पहचान करना 
  • टेक्निकल इंडीकेटर्स और एनालिसिस की मदद से ट्रेडिंग स्ट्रेटेजी को समझना
  • इंट्राडे और स्विंग ट्रेडिंग का ज्ञान
  • रिस्क मैनेजमेंट तकनीक
  • कैंडलस्टिक पैटर्न की अच्छी समझ
  • चार्टिंग टेक्निकल इंडीकेटर्स की पहचान 

कोर्स पूरा करने पर बीएसई से ट्रेनिंग सर्टिफिकेट मिलता है।

4. निफ्टी ट्रेडिंग अकेडमी

शेयर बाज़ार के निवेशक जो लाइव मार्केट सेशन के बारे में सीखना और एक्सपीरियंस हासिल करना चाहते हैं, वे निफ्टी ट्रेडिंग अकेडमी के कोर्सेस का लाभ उठा सकते हैं। इनके प्रोग्राम टेक्निकल एनालिसिस का ज्ञान बढ़ाने के हिसाब से डिज़ाइन किए गए हैं।

अकेडमी के कुछ प्रोग्राम हैं :

  • टेक्निकल एनालिसिस कोर्स में डिप्लोमा 
  • स्टॉक मार्केट बिगिनर्स कोर्स
  • इंट्राडे ट्रेडिंग कोर्स
  • एडवांस्ड टेक्निकल एनालिसिस 
  • सॉफ्टवेयर – बेस्ड प्योर प्रॉफिट कोर्स फॉर ट्रेडर्स  

इन प्रोग्राम्स की कुछ विशेषताएं हैं :

  • उच्च क्वालिटी कोर्स डिज़ाइन  
  • आसान टीचिंग पैटर्न
  • करियर को बढ़ाने के लिए डिज़ाइन किया गया कोर्स 
  • बाज़ारों पर मजबूत ज्ञान आधार बनाने में मदद करता है
  • अपना ट्रेडिंग या इन्वेस्टिंग बिज़नेस शुरू करना सिखाता है

5. एनआईएफएम – नेशनल  इंस्टिट्यूट ऑफ़ फाईनेंशियल मार्केट्स 

एनआईएफएम को 1993 में वित्त मंत्रालय द्वारा शुरू किया गया था। इसमें एग्जाम सर्टिफिकेशन के साथ – साथ कई स्टॉक मार्किट कोर्सेस भी करवाए जाते हैं।

इनमें से कुछ कोर्स ये हैं  :

  • पोस्ट -ग्रेजुएट डिप्लोमा इन फाईनेंशियल मैनेजमेंट 
  • पोस्ट -ग्रेजुएट डिप्लोमा इन रिसर्च एनालिसिस 
  • फेलो प्रोग्राम इन मैनेजमेंट – एफपीएम
  • एनआईएफएम सर्टिफाइड टेक्निकल एनालिस्ट 
  • एनआईएफएम सर्टिफाइड स्मार्ट इन्वेस्टर 
  • एनआईएफएम सर्टिफाइड प्रिपरेशन मॉडयूल

एनआईएफएम के कोर्स स्टॉक मार्केट के प्रैक्टिकल ज्ञान के बजाय उनके किताबी ज्ञान पर ध्यान देने वाले हैं। हालांकि इनमें स्टूडेंट्स का अधिक समय लग सकता है, पर ये मजबूत ज्ञान आधार बनाने के हिसाब से बहुत लाभदायक हैं।   

6. नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ सिक्योरिटीज मार्केट सर्टिफिकेशन – एनआईएसएम

एनआईएसएम को भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) द्वारा शुरू किया गया था और यह वित्तीय बाज़ारों के काम करने के तरीकों और उनसे सम्बंधित ज्ञान और शिक्षा देता है। अधिक से अधिक लोगों को कवर करने के लिए एनआईएसएम ने पूरे देश में कई केंद्र खोले हैं।

इनके कुछ प्रोग्राम हैं:

  • करेंसी डेरिवेटिव सर्टिफिकेशन एग्जाम 
  • रजिस्ट्रार एंड ट्रांसफर एजेंट सर्टिफिकेट एग्जाम फॉर कॉर्पोरेट एंड म्यूचुअल फंड्स 
  • सिक्योरिटीज इंटरमीडियरीस कंप्लायंस एग्जाम 
  • इशुअर्स कंप्लायंस सर्टिफिकेट एग्जाम 
  • इंटरेस्ट रेट डेरिवेटिव्स सर्टिफिकेट एग्जाम 

अंत में

यहां दिए गए इंस्टिट्यूट और कोर्स पूरी तरह से सरकार द्वारा समर्थित हैं, इसलिए शेयर बाज़ारों में रुचि रखने वालों को इन प्रोग्राम्स की क्वालिटी और सर्टीफिकेशन्स की वैलिडिटी का पूरा भरोसा दिया जा सकता है।

स्टॉक मार्किट प्रोग्राम्स से सम्बंधित कुछ प्रश्न (FAQs)

1. क्या स्टॉक मार्केट कोर्स ज़रूरी है?

जो लोग बाज़ार में नए हैं उनके लिए शेयर बाज़ार की पढाई महत्वपूर्ण है। कुछ कोर्स बाज़ार के कामकाज, सम्बंधित भाषा, उसके रिस्क की बेसिक समझ प्रदान कर सकते हैं ताकि नए लोगों को ट्रेडिंग या निवेश के लिए अच्छे से तैयार किया जा सके।

2. क्या मैं स्टॉक मार्केट कोर्स ऑनलाइन सीख सकता हूं?

जी हाँ। आप ऑनलाइन स्टॉक मार्केट कोर्स कर सकते हैं क्योंकि कई जाने – माने इंस्टिट्यूट ऑनलाइन कोर्स की सुविधा देते हैं।

3. भारतीय शेयर बाज़ार के लिए कौन सा कोर्स सबसे अच्छा है?

भारतीय शेयर बाज़ार में शुरुआत करने के लिए कोई व्यक्ति निफ्टी ट्रेडिंग अकेडमी के कोर्स कर सकता है। यह अकेडमी कुछ बेहतरीन क्वालिटी और शेयर बाज़ार के बहुत से टॉपिक्स कवर करने वाले प्रोग्राम्स करवाता है जो देश भर में रिकॉगनाइज़्ड हैं ।

4. मुझे भारत में स्टॉक खरीदने के लिए क्या चाहिए?

भारत में स्टॉक खरीदने के लिए आपके पास भारत में रजिस्टर्ड ब्रोकर के साथ एक ट्रेडिंग और डीमैट खाता होना चाहिए। पैन कार्ड और बैंक खाता होना भी अनिवार्य है।

5. शुरुआती लोग भारत में स्टॉक कैसे खरीदते हैं?

शेयर बाज़ार प्रोग्राम के माध्यम से शेयर बाजारों का कुछ बेसिक ज्ञान प्राप्त करने के बाद शुरुआती लोग भारत में स्टॉक खरीद सकते हैं। शेयर बाज़ार का एक कोर्स शेयर बाज़ार में  निवेश शुरू करने की बुनियादी आवश्यकताओं पर अच्छी जानकारी प्रदान कर सकता है।

Related Articles

Download one of India's best wealth management apps

Join more than one million investors and take control of your wealth

Download app